Made In India | COD Available | 100% Original | Products Directly From Manufacturers | Free Shipping| Same Day Delivery Across Delhi NCR*
Rekhta Books

Khidki To Main Ne Khol Hi Li (Paperback, Shariq Kaifi)

In Stock
SKU: 978-8193440919
sold in last hours

Regular price Rs. 239.00 Rs. 239.00 | Save Rs. 0.00 (0% off)
/

Hurry, Only 1 left!
1

🎁 Use Coupon code: EXTRA10 on orders above ₹999
💰 Coupon Discount: 10% off upto Rs. 300 (check cart for final savings)

Type:

Collections: Books,  Poetry Books,  Rekhta Books,  

PRODUCT DETAILS

About Book

प्रस्तुत किताब रेख़्ता नुमाइन्दा कलाम’ सिलसिले के तहत प्रकाशित प्रसिद्ध उर्दू शाइर शारिक़ कैफ़ी का काव्य-संग्रह है| शारिक़ कैफ़ी की शाइरी बहुत ही सूक्ष्म भावनाओं की शाइरी है जिसमें इन्सानी मन के ऐसे भावों को बेहद सरल भाषा में अभिव्यक्त किया गया है जो हमारे मन में आते तो अक्सर हैं मगर कई बार हम उनकी मौजूदगी को पहचानने से चूक जाते हैं| यह किताब देवनागरी लिपि में प्रकाशित हुई है और पाठकों के बीच ख़ूब पसंद की गई है|

About Author

शारिक़ कैफ़ी (सय्यद शारिक़ हुसैन) बरेली (उत्तर प्रदेश) में पहली जून 1961 को पैदा हुए। वहीं बी.एस.सी. और एम.ए. (उर्दू) तक शिक्षा प्राप्त की। उनके पिता कैफ़ी वजदानी (सय्यद रिफ़ाक़त हुसैन) मशहूर शाइ’र थे, इस तरह शाइ’री उन्हें विरासत में हासिल हुई। उनकी ग़ज़लों का पहला मज्मूआ’ ‘आ’म सा रद्द-ए-अ’मल’ 1989 में छपा। इस के बा’द, 2008 में दूसरा ग़ज़ल-संग्रह ‘यहाँ तक रौशनी आती कहाँ थी’ और 2010 में नज़्मों का मज्मूआ ‘अपने तमाशे का टिकट’ प्रकाशित हुआ। इन दिनों बरेली ही में रहते हैं।शारिक़ कैफ़ी (सय्यद शारिक़ हुसैन) बरेली (उत्तर प्रदेश) में पहली जून 1961 को पैदा हुए। वहीं बी.एस.सी. और एम.ए. (उर्दू) तक शिक्षा प्राप्त की। उनके पिता कैफ़ी वजदानी (सय्यद रिफ़ाक़त हुसैन) मशहूर शाइ’र थे, इस तरह शाइ’री उन्हें विरासत में हासिल हुई। उनकी ग़ज़लों का पहला मज्मूआ’ ‘आ’म सा रद्द-ए-अ’मल’ 1989 में छपा।

REVIEWS

RETURNS POLICY

We offers the 7days replacement policy from the date of delivery. We always strive to provide best customer experience through best services and quality products.If any customer / buyer want to replace the product he/she can replace if delivered product is damaged/wrong/other.Damaged product should be initiate within 24 hours of delivery of the product.Customer can request for replacement by sending the email on customercare@funku.inCustomer product can be replaced only the same brand product.We don't offer the refund policy.

Khidki To Main Ne Khol Hi Li(Paperback, Shariq Kaifi)

Recently Viewed Products

You can stop autoplay, increase/decrease aniamtion speed and number of grid to show and products from store admin.

What are you looking for?

Join Our Mailing List

Stay Informed! Monthly Tips, Tracks and Discount.

Your cart